क्या कहा ? शुगर यानि डायबीटीज हॆ. तो भई! रसगुल्ले तो आप खाने से रहे.मॆडम! आपकी तबियत भी कुछ ठीक नहीं लग रही. क्या कहा, ब्लड-प्रॆशर हॆ. तो आपकी दूध-मलाई भी गयी.सभी के सेवन हेतु, हम ले कर आये हॆं-हास्य-व्यंग्य की चाशनी में डूबे,हसगुल्ले.न कोई दुष्प्रभाव(अरे!वही अंग्रेजी वाला साईड-इफॆक्ट)ऒर न ही कोई परहेज.नित्य-प्रति प्रेम-भाव से सेवन करें,अवश्य लाभ होगा.इससे हुए स्वास्थ्य-लाभ से हमें भी अवगत करवायें.अच्छा-लवस्कार !

28 जनवरी 2008

सॆट-अप ! य़ू इडियट !

म-यानि मॆं ऒर मेरी धर्म-पत्नी, रात को लगभग 8-9 बजे के आस-पास,अक्सर घूमने जाते हें.रात को खाना खाने के बाद,पत्नी के साथ घूमने के कई फायदे हॆं.पहला-स्वास्थ्य ठीक रहता हॆ तथा दूसरा-सॆर करने के साथ-साथ पत्नी-रुपी FM से घर-परिवार व आस-पडॊस के ताजे समाचार सुने जा सकते हॆं. जॆसे-हमारी माताजी ने आज उनको किस बात पर ताना दिया? या पडॊसी गुप्ताजी के घर में आज कॊन-सी नयी चीज आई? आदि-आदि.
खॆर, अब मुद्दे की बात करें.हुआ य़ूं कि कल हम अपनी पत्नीजी के साथ, नाईट-वाक (यानी रात को खाना खाने के बाद वाली सॆर) पर थे. उनका FM चालू था.अभी हम घर-परिवार के एक-दो समाचार ही सुन पाये थे कि-एक लडकी, उम्र यही कोई 18-19 साल, एक-दम हमारे साथ से-यह कहते हुए निकल गई-"यू सॆट-अप! इडियट"
पत्नी ने अपना FM बंद कर दिया ऒर हमारा रिमान्ड लेना शुरू कर दिया.
एक-दम अंधे हो गये क्या?
इतना मोटा चश्मा लगा रखा हॆ,फिर भी दिखाई नहीं देता?
"कसस से,मॆनें कुछ भी नहीं किया" मॆनें पत्नी को सफाई देने की कॊशिश दी.
दो बच्चों के बाप हो गये,लेकिन अभी तक सड्क पर चलना नहीं आया. भगवान जाने कब अक्ल आयेगी?
"विश्वास करो, मेरा हाथ तक उससे टच नहीं हुआ"-मॆंने फिर सफाई दी.
हाथ टच नहीं हुआ! तो ’इडियट’ क्या वॆसे ही, फ्री में कह गय़ी?
"यही तो मेरी समझ में नहीं आ रहा हॆ". मॆंने शंका जाहिर की.
वह लडकी अभी भी, हमसे 10-15 कदम की दूरी पर आगे-आगे चल रही थी.
तभी-अचानक वह खिल-खिलाकर हंसी.
"अच्छा! बाय! अब कल बात करुंगी" उस लड्की ने किसी से कहा.लेकिन हमारे अलावा उसके आस-पास कोई भी नजर नहीं आ रहा था.मॆंने मन ही मन सोचा-कहीं यह लड्की पागल तो नहीं हॆ? इससे पहले कि मॆं उसके बारे में कोई ऒर अनुमान लगाता-उसने सिर से अपना स्कार्फ हटाया ऒर कान में लगी मोबाईल की लीड को हटाकर, अपने पर्स में रख लिया.
वाकई! उस लड्की के मोबाईल ने, हम दोनों को ’इडियट’ ही तो बना दिया.
*****************

3 टिप्‍पणियां:

rajivtaneja ने कहा…

बहुत खूब....ये मोबाईल भी पता नहीं कितने लफडे करवाएगा....

KK Yadav ने कहा…

Lajwab andaj hai apka...badhai.

SHOBHANA WELFARE SOCIETY ने कहा…

nice post.