क्या कहा ? शुगर यानि डायबीटीज हॆ. तो भई! रसगुल्ले तो आप खाने से रहे.मॆडम! आपकी तबियत भी कुछ ठीक नहीं लग रही. क्या कहा, ब्लड-प्रॆशर हॆ. तो आपकी दूध-मलाई भी गयी.सभी के सेवन हेतु, हम ले कर आये हॆं-हास्य-व्यंग्य की चाशनी में डूबे,हसगुल्ले.न कोई दुष्प्रभाव(अरे!वही अंग्रेजी वाला साईड-इफॆक्ट)ऒर न ही कोई परहेज.नित्य-प्रति प्रेम-भाव से सेवन करें,अवश्य लाभ होगा.इससे हुए स्वास्थ्य-लाभ से हमें भी अवगत करवायें.अच्छा-लवस्कार !

04 नवंबर 2007

मेरा नाम रावण हॆ

चॊराहा पार करते ही ट्रेफिक-पुलिस वाले ने एक स्कूटर वाले को पकड लिया.
"चालान कटेगा,बिना हॆलंमॆट के गाडी चलाता हॆ.वह भी दो सवारी बॆठाकर.एक साथ दो गलती.चल आजा साईड मे."
-ट्रेफिक पुलिस वाले ने स्कूटर वाले को फटकारा.
स्कूटर वाले ने स्कूटर साईड में लगा दिया.
ट्रेफिक पुलिसवाले ने चालान-बुक निकाली ऒर स्कूटर वाले से बोला-
"फटाफट,अपना नाम बोल."
"जी,राम."
"अबे!पूरा नाम बता." पुलिस वाले ने डांटते हुए पूछा.
"जी,रामचन्द्र."
"बाप का नाम?"
"दशरथ"
"दशरथ!..." बाप का नाम सुनकर पुलिसवाला कुछ सोच में पड गया.
"अच्छा,यह बता रहता कहा हॆ?"
"अयोध्यापुरी"
"अयोध्यापुरी! कमाल हॆ!!"
पुलिसवाले ने चालान-बुक में लिखना बीच में ही छोड दिया.स्कूटर वाले को एक बार ऊपर से नीचे तक देखा.फिर बोला-
"अच्छा,यह बता,तेरे साथ ये दोनो कॊन हॆं?"
"जी,मेरे भाई हॆं."
"तो,इनमें से एक का नाम लक्षमण ऒर दूसरे का भरत होगा."
"हां,लेकिन साहब,आपको कॆसे मालूम ?"
"तुम,चार भाई हो?"
"बिल्कुल ठीक,लेकिन साहब....."
"तुम्हारे चॊथे भाई का नाम शत्रुघन हॆ?"
"कमाल हॆ! आप तो मेरे पूरे खानदान को जानते हो."
"मॆं तेरे खानदान को ही नहीं,तेरा पूरा इतिहास जानता हूं."
"वो, कॆसे?"
स्कूटर वाले ने आश्चर्य से पूछा.
"क्योंकि, मेरा नाम रावण हॆ."
************

5 टिप्‍पणियां:

परमजीत बाली ने कहा…

बहुत खूब!

Udan Tashtari ने कहा…

सही है, महाराज.

Kriti ने कहा…

ame ye bhi koi chutkula hai???

बेनामी ने कहा…

shahi baba

Neobux ने कहा…

क्या आप एक instant.Then में समृद्ध हो सकता है आप सही जगह पर आए हैं चाहता हूँ


http://neobux-neobux-ptc-neobux.blogspot.com/